मेयो मेडिकल सेंटर में हुआ पहला ' गोल्ड नी रिप्लेसमेंट '

लखनऊ। मेयो मेडिकल सेंटर मे ' गोल्ड नी रिप्लेसमेंट' किया गया। लखनऊ में किया जाने वाला यह पहला रिप्लेसमेंट है। मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ मधुलिका सिंह ने कहा की गोमती नगर स्थित मेयो मेडिकल सेंटर ज्वाइंट रिप्लेसमेन्ट (घुटना प्रत्यारोपण) सर्जरी शुरू करने वाला प्रदेश का पहला सेंटर है। इसी क्रम में सेंटर ने नया कीर्तिमान स्थापित किया। नी रिप्लेसमेंट में किये गए इस नए प्रयोग के बारे में सेंटर के हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ आरपी सिंह ने बताया कि अमूमन घुटना प्रत्यारोपण ( नी रिप्लेसमेंट) में जो उपकरण लगाया जाता है उसमें मेटल का प्रयोग किया जाता है। कभी कभी इस उपकरण में लगे धातु से मरीज को एलर्जी हो जाती है। इसके कारण मरीज को काफी परेशानी उठानी पड़ती है। इसके लिए उन्हें लंबे समय तक एन्टी एलर्जिक दवाएं भी लेनी पड़ती हैं। आधुनिक तकनीक से बने इस नए उपकरण में मेटल की जगह सोने (गोल्ड) का प्रयोग किया गया है। सेंटर की डायरेक्टर स्निगधा सिंह ने बताया कि मेयो मेडिकल सेंटर में रियायती दर पर घुटना प्रत्यारोपण किया जाता है।सेंटर में डेढ़ लाख रुपये में घुटना प्रत्यारोपण किया जाता है जबकि अन्य केंद्रों में इसकी लागत ढाई लाख से तीन लाख आती है। गोल्ड नी इम्प्लांट से होने वाले प्रत्यारोपण की लागत 1.70 लाख आती है। इसके साथ ही यह लंबे समय तक चलता है। मेटल वाले उपकरण जो प्रत्यारोपण मे लगाया जाता है वह अमूमन 25 से 30 साल चलते है वहीं गोल्डन नी 40 से 45 साल तक चलता है। इसमें किसी तरह की एलर्जी की आशंका भी नहीं होती।

Talk to Us
Find a Doctor

Talk to Us